हिंदी की पाँच श्रेष्ठ कहानियाँ

Author:

Dr. Sachidanand Shukla

Publisher:

V & S Publishers

Rs176 Rs195 10% OFF

Availability: Available

    

Rating and Reviews

0.0 / 5

5
0%
0

4
0%
0

3
0%
0

2
0%
0

1
0%
0
Publisher

V & S Publishers

Publication Year 2017
ISBN-13

9789350576472

ISBN-10 9789350576472
Binding

Paperback

Edition FIRST
Number of Pages 67 Pages
Language (Hindi)
Dimensions (Cms) 21x14x0.5
Weight (grms) 116
भारतीय साहित्यकारों में साहित्यकार रवीन्द्रनाथ टैगोर, शरत् चन्द्र और विभूतिभूषण बन्द्योपाध्याय तथा हिन्दी साहित्यकारों में चन्द्रधर शर्मा गुलेरी, जयशंकर प्रसाद और प्रेमचन्द कहानी-लेखन के क्षेत्र में अनन्य है। इन साहित्यकारों की प्रसिद्ध श्रेष्ठ कहानियाँ इस पुस्तक में संकलित है, जो मानव मन की भावनाओं को उद्वेलित करने वाली है। प्रकाशन के क्षेत्र में प्रथम बार बांगला और हिन्दी कहानीकारों की कहानियों का संकलन किया गया है, यह पुस्तक बाल, वृद्ध, युवा एवं महिलाओं के लिए पठनीय और संग्रहनीय है। ‘हिन्दी की पाँच श्रेष्ठ कहानियाँ' आप भी पढ़ें और अपने परिवार को भी पढ़ने को दें।

Dr. Sachidanand Shukla

डॉ. सच्चिदानंद शुक्ल ने गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर से हिंदी साहित्य में एम. ए., काशी विघापीठ, वाराणसी से हिंदी साहित्य में पी.एच.डी. तथा हिंदी साहित्य सम्मलेन, इलाहाबाद से संस्कृत विषय में साहित्य रत्न एवं आयुर्वेद रत्न की उपाधियों प्राप्त की। सन 1980 से 1986 तक हिंदी प्रवक्ता के रूप में कार्य किया। तत्प्श्चात 1986 से 1995 तक दैनिक 'स्वतंत्र चेतना' गोरखपुर, दैनिक 'आज' बरेली व आगरा तथा दैनिक 'भास्कर्य' झांसी व ग्वालियर के सम्पादकीय विभाग में विभिन पदों पर कार्य किया।
No Review Found
More from Author