Aatma Samman Kyun Aur Kaise Badhyein (Hindi)

Author:

Dr. Narendra Nath Chaturvedi

Publisher:

V & S Publisher

Rs156 Rs195 20% OFF

Availability: Available

    

Rating and Reviews

0.0 / 5

5
0%
0

4
0%
0

3
0%
0

2
0%
0

1
0%
0
Publisher

V & S Publisher

Publication Year 2012
ISBN-13

9789381588253

ISBN-10 9381588252
Binding

Paperback

Edition First
Number of Pages 106 Pages
Language (Hindi)
Dimensions (Cms) 20.6x13.7x0.7
Weight (grms) 146

प्रस्तुत पुस्तक में लेखक नरेन्द्रनाथ चतुर्वेदी ने स्वाभिमान का अर्थ समझाते हुए इसके विकास और इसे बढ़ाने के तरीकों का उल्लेख किया है। आत्म-सम्मान के बिना एक व्यक्ति जीवित लाश की तरह है, इसलिए किसी भी स्वाभिमानी व्यक्ति के लिए आत्म-सम्मान बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है। हम अपने आत्म सम्मान को बनाए रखने में सक्षम क्यों नहीं हैं या वे कौन से तत्व हैं जो हमें इससे वंचित करते हैं, लेखक ने सभी कारणों और तत्वों पर गंभीरता से विचार किया है और इसके लिए एक रास्ता सुझाया है जिससे हमारे आत्म सम्मान का पालन करने और बनाए रखने के लिए, हम सुखी और खुशहाल जीवन जी सकते हैं। आप सभी को पढ़ने और सीखने के लिए और पूरे परिवार को पढ़ाने के लिए भी इस पुस्तक को पढ़ना चाहिए। 

Dr. Narendra Nath Chaturvedi

No Review Found