Sahas Aur Aatmavishwas (Hindi)

Author:

ROOMI SOOD

Publisher:

V & S Publisher

Rs156 Rs195 20% OFF

Availability: Available

    

Rating and Reviews

0.0 / 5

5
0%
0

4
0%
0

3
0%
0

2
0%
0

1
0%
0
Publisher

V & S Publisher

Publication Year 2015
ISBN-13

9789381448649

ISBN-10 9381448647
Binding

Paperback

Edition First
Number of Pages 128 Pages
Language (Hindi)
Dimensions (Cms) 20.6X13.8X0.9
Weight (grms) 118

आज आत्मविश्वास की शक्ति और क्षमता को सभी ने अच्छी तरह पहचान लिया है। यही वह तत्त्व है, जो व्यक्ति की उन्नति में कारगर भूमिका निभाता है। साहस आत्मविश्वास का पूरक है। आत्महीनता से ग्रस्त व्यक्ति कभी निडर और साहसी नहीं हो सकता। आपके कार्यक्षेत्र में तो इसका मोल सर्वाधिक है। आप कितनी ही विपत्तियों से क्यों न घिरे हों, यदि आपमें आत्मविश्वास है, तो बड़ी-से-बड़ी चुनौतियाँ भी आपका कुछ नहीं बिगाड़ पायेंगी और आप किसी कुशल मल्लाह की तरह तफूानों में घिरी नाव को किनारे पर ले ही आयेंगे, ऐसा विश्व के महान् मनीषियों का दावा है। अपने विषय की श्रेष्ठ लेखिका रोमी सूद ‘उपमाश्री’ ने अपनी इस पुस्तक में 23 अध्याय दिये हैं। प्रत्येक अध्याय पूरी तरह दिशा सूचक है। जैसे-जैसे आप इन्हें पढ़ते जायेंगे, आपमें साहस एवं आत्मविश्वास भरता चला जायेगा और एक दिन आप अपने आपको सफलता प्राप्त करने में सक्षम पायेंगे। बहुत से लोग योग्य, अनुभवी और प्रतिभाशाली होते हैं, लेकिन आत्मविश्वास के अभाव में यह सब दब जाता है और वे कुंठित होकर अपने आपको दोषी ठहराने लगते हैं, जबकि ऐसा नहीं है। उन्हें अपने भीतर आत्मविश्वास जगाना और उन्नति का मार्ग प्रशस्त करना चाहिए। 

ROOMI SOOD

आज की लेखकाओ मे विशिष्ट स्थान बनाने वाली युवा लिखिका रोमी सूद उपमाश्री देश की प्रतिष्ठत पत्र-पत्रिकाओं मे निरंतर लिखती रहती है। अब तक इनकी 600 से अधिक रचनाएँ नवभारत टाइम्स, दैनिक हिंदुस्तान, राष्ट्रीय सहारा, दैनिक जागरण, ग्रहशोभा, मेरी सहेली, सरिता आदि मे छप चुकी है। वी एंड एस पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित उनकी पुस्तक साहस और आत्मविश्वास पर्याप्त चर्चित हुई है।
No Review Found
More from Author